Tag Archives: top 5 study Tips

Top 5 Study Tips for students.

Study Tips:-

Study Tips

In ancient times, the student did not have so many facilities as he has today, today he can study or prepare himself through various platforms of study like online / offline classes, but along with the facilities, the inconveniences also keep on going.  Because of which there is a hindrance in the study, in this situation the student does not feel comfortable himself and may sometimes deviate from his path.

How many problems a student / participant has to face in his life but still keeps trying to reach his destination because he has now decided that now he has to achieve his goal even if he wants to  No matter what happens, here are some important study tips that you can use while studying:-

“Don’t stop, just keep walking, don’t run, just keep walking.

The floor will be found by you, just keep walking on your path. “

By Dileep Rana

1. Keeping the mind calm and focused:- Keeping the mind calm and focused is very important in student life because when our mind is calm and concentrated, our attention becomes completely one-sided while studying, otherwise many times while studying our  The mind keeps wandering about things here and there, due to which we are not able to do qualitative studies and due to this our concentration ends while studying.

Don’t go in stress

Don’t go in stress

Keep your mind calm and focused, you can adopt the right habits in your life such as getting up early in the morning, doing yoga, meditating and doing physical activity so that our body remains fit and healthy and our mind is light because whenever you study continuously  If so, then it directly affects our mind, so that our mind becomes a bit cumbersome, then at that time we should concentrate on sports, whenever we go to play, we become completely free from many thoughts and our  The pressure on the brain gradually reduces after that the student can adopt the same routine.

2. Keeping the body healthy and balanced:- We all already know and understand that “A healthy soul and a healthy mind reside in a healthy body.”  Therefore, it is necessary in the life of the student also that our body should be healthy and balanced so that along with it our mind remains vaccinated with concentration on studies.  To keep the body healthy, you can try many ways like getting up early in the morning, doing yoga, jogging and eating a balanced diet as well as if appropriate you can also do exercise, gym etc.

Meditation

3. Determination of proper place and time for studying: – We all know that it is very important to keep the mind calm for studying and it is very important to have a good place and environment to keep the mind calm because noise-  Studying in an atmosphere of alcohol and concentrating in study is a very difficult task, that’s why if possible, when you sit to study, determine the proper place to study, like you can make a separate study room for this, that room should be like this  Where natural scenery is easily visible and pure air keeps going in and the room is illuminated.

Student concentration

It is very important to study in the right place as well as at the right time when you feel that this time is right for you and when you feel comfortable studying in this time then choose such time to study only.  .  It is not necessary for every student to get up early in the morning and the morning time is best for studies, every student has a different nature, that is why decide the time according to your wish and according to your instincts and not by seeing otherwise.  Such a time would be good for you for a day or two, but you cannot follow it for more days because the work done by looking at others does not fit for everyone.

4. Studying continuously:- “The root of the practice of doing exercises is the layer mark on the suzan rasri aavat jaat te sil” we have been hearing this sentence since childhood and if we understand its meaning correctly, then all the troubles will be solved immediately. . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . . .  Maybe it means that just as a rope kept on a well repeatedly up and down leaves a mark on the stone, similarly a retarded person becomes learned by repeated attempts.

Study continue never give up

Study continue never give up

The secret of success is hidden in this sentence because a student studies but we get the result of that study only when we keep doing that study continuously.  It is not important to study for 18 hours out of 24 hours but it is more fruitful to study little but continuously during the day and every day of course.  Of course, you study only 6 hours a day and you follow this routine every day.

5. Continuous revision of the educated: – The smaller our mind is, the deeper are its secrets.  Scientists from all over the world have been trying to unravel its secrets for decades, yet all the layers of the mind have not been opened.  It is believed that our brain is so capable that even a supercomputer is next to nothing.  Despite this, we humans have not been able to learn to use our brain properly and fully.  Our brain cannot remember many things for a long time, so it is necessary for the student to revise whatever is being studied again and again so that it can stay in our mind for a long time.

Top 5 study tips for students in hindi :-

प्राचीन समय में विद्यार्थी के पास इतनी सुविधाएं उपलब्ध नहीं होती थी जितनी कि आज उसके पास है आज पढ़ाई करने के विविध प्लेटफार्म जैसे ऑनलाइन/ऑफलाइन कक्षाओं के माध्यम से अपना अध्ययन या तैयारी कर सकते है परंतु सुविधाओं के साथ-साथ असुविधाएं भी चलती रहती है जिससे अध्ययन में रुकावट आ जाती है इस स्थिति में विद्यार्थी अपने आप को सहज महसूस नहीं करता है और शायद कई बार अपने पथ से भी भटक जाता है।

एक विद्यार्थी/प्रतिभागी को अपने जीवन में ना जाने कितनी समस्याओं का सामना करना पड़ता है परंतु फिर भी वह अपनी मंजिल पर पहुंचने के लिए लगातार प्रयास करता रहता है क्योंकि उसने अब यह निर्णय कर लिया है कि अब उसे अपना लक्ष्य प्राप्त करना ही है चाहे कुछ भी हो जाए यहां पर कुछ महत्वपूर्ण स्टडी टिप्स दी गई है जिसका प्रयोग आप अध्ययन करते समय कर सकते हैं:-

“तू रुक मत बस तू चलता रह, तू भाग मत बस चलता रह।

मंजिल मिल ही जाएगी तुझे तेरी, बस अपने पथ पर तू चलता रह।”

By Unknown

1. मन को शांत और एकाग्र रखना:- मन का शांत रहना और एकाग्र रहना विद्यार्थी जीवन में बहुत ही महत्वपूर्ण है क्योंकि जब हमारा मन शांत और एकाग्र होता है तो पढ़ते समय हमारा ध्यान बिल्कुल एक तरफा हो जाता है अन्यथा कई बार पढते समय हमारा मन इधर-उधर की चीजों में भटकता रहता है जिस कारण हम गुणात्मक अध्ययन नहीं कर पाते और इससे हमारी अध्ययन करते समय एकाग्रता समाप्त हो जाती है।

मन को शांत और एकाग्र आप अपने जीवन में सही आदतों को अपना सकते है जैसे सुबह जल्दी उठना, योगा करना, ध्यान लगाना और फिजिकल एक्टिविटी करना जिससे हमारा शरीर चुस्त और स्वस्थ भी रहे और हमारा मन हल्का रहे है क्योंकि जब भी आप लगातार पढ़ाई करते हैं तो उसका असर सीधा हमारे दिमाग पर पड़ता है कि जिससे कि हमारा दिमाग थोड़ा बहुत बोझिल सा हो जाता है तो उस समय हमें खेलकूद मैं ध्यान लगाना चाहिए जब भी हम खेलने जाते तो हम संपूर्ण रूप से अनेकों विचारों से स्वतंत्र हो जाता है और हमारे दिमाग पर दबाव धीरे-धीरे कम हो जाता है उसके पश्चात विद्यार्थी अपनी उसी रूटीन को अपना सकता है।

2. शरीर को स्वस्थ एवं संतुलित रखना:- हम सब पहले से ही जानते हैं और समझते हैं किस “स्वस्थ शरीर में स्वस्थ आत्मा और स्वस्थ चित का वास होता है।” इसलिए विद्यार्थी के जीवन में भी जरूरी है की हमारा शरीर स्वस्थ और संतुलित रहे ताकि इसके साथ-साथ हमारा दिमाग अध्ययन पर एकाग्रता के साथ टीका रहे। शरीर को स्वस्थ रखने के लिए आप कई तरीके आजमा सकते हैं जैसे सुबह जल्दी उठना, योगा करना, जोगिंग करना और संतुलित आहार खाना और साथ ही उचित हो तो आप व्यायाम, जिम आदि भी कर सकते हैं।

3. पढ़ने के लिए उचित स्थान एवं समय का निर्धारण:- हम सबको पता है कि पढ़ाई करने के लिए मन का शांत रहना बहुत ही जरूरी है और मन को शांत रखने के लिए एक उत्तम स्थान और वातावरण का होना अति आवश्यक है क्योंकि शोर-शराबे के वातावरण में पढ़ाई करना और अध्ययन में ध्यान लगाना बहुत ही कठिन कार्य है इसीलिए हो सके तो जब आप पढ़ाई करने बैठेंगे तो पढ़ने के लिए उचित स्थान का निर्धारण कर ले जैसे इसके लिए आप अलग से स्टडी रूम बना सकते हैं वह रूम ऐसा होना चाहिए जहां प्राकृतिक दृश्य आसानी से दिखाई दे और शुद्ध हवा अंदर आती-जाती रहे और कमरा रोशनी दायक हो।

उचित स्थान के साथ-साथ उचित समय में पढ़ाई करना भी बहुत ही महत्वपूर्ण है जब आपको लगे कि यह समय आपके लिए ठीक है और जब आप इस समय में पढ़ते हैं तो आप सहज महसूस करते हैं तो ऐसे समय को ही पढ़ाई करने के लिए चुने। जरूरी नहीं कि हर विद्यार्थी के लिए सुबह जल्दी उठना और सुबह का समय पढ़ाई के लिए उत्तम ही हो हर विद्यार्थी का अलग-अलग स्वभाव होता है इसीलिए समय का निर्धारण अपनी इच्छा अनुसार और अपनी सहजता के अनुसार ही करें ना कि देखा देखी मे करें अन्यथा ऐसा समय एक-दो दिन के लिए तो आपके लिए अच्छा रहेगा परंतु ज्यादा दिन के लिए आप इसे फॉलो नहीं कर सकते क्योंकि दूसरों को देखकर किया गया काम हर किसी के लिए उचित नहीं बैठता।

4. लगातार अध्ययन करनाः- “करत करत अभ्यास के जड़मति होत सुजान रसरी आवत जात ते सिल पर परत निशान” इस वाक्य को तो हम बचपन से ही सुनते आ रहे हैं और अगर हम इसका अर्थ सही समझ लेते हैं तो सारी परेशानी का हल तुरंत हो सकता है इसका अर्थ है जैसे कुए पर रखी हुई रस्सी बार-बार ऊपर नीचे होने से पत्थर पर निशान पड़ जाते हैं उसी तरह बार-बार प्रयास करने से मंदबुद्धि भी विद्वान हो जाता है।

इस वाक्य में ही सफलता का राज छुपा हुआ है क्योंकि एक विद्यार्थी अध्ययन तो करता है परंतु उस अध्ययन का फल हमें तब मिलता है जब हम उस अध्ययन को लगातार करते रहे। 24 घंटे में से 18 घंटे अध्ययन करना महत्वपूर्ण नहीं है परंतु दिन में और प्रत्येक दिन बेशक थोड़ा-थोड़ा परंतु लगातार अध्ययन करना अधिक फलदायक होता है। बेशक दिन में आप 6 घंटे ही अध्ययन करें और इस रूटीन को आप प्रत्येक दिन अपनाएं।

5. पढ़े हुए का लगातार रिवीजन:- हमारा दिमाग जितना छोटा है, इसके राज उतने ही गहरे हैं। दुनियाभर के वैज्ञानिक दशकों से इसके राज खोलने में जुटे हुए हैं, फिर भी दिमाग की सभी परतें खुल नहीं पाई हैं। माना जाता है कि हमारा दिमाग इतना सक्षम है कि सुपर कम्प्यूटर भी उसके आगे कुछ नहीं। बावजूद इसके, हम इंसान अपने दिमाग का सही और पूरा उपयोग करना सीख ही नहीं पाए हैं। हमारा दिमाग कई चीजों को अधिक दिनों तक याद नहीं रख सकता इसलिए जरूरी है कि विद्यार्थी को जो भी अध्ययन किया जा रहा है उसे बार-बार रिवाइज करें ताकि वह लंबे समय तक हमारे दिमाग में बस सके।